जानिए कैसे गाय भैंस के गोबर से बनता है वर्मी कंपोस्ट।

featured-image

किसान और पशुपालक भाई अगर अपने आस पास के संसाधनों का उपयोग सही प्रकार करें तो वो आसानी से एक अच्छी आय अर्जित कर सकते हैं। आज हम पशुपालक भाइयों को ऐसी ही एक चीज का बेहतरीन उपयोग बताने वाले हैं। हम सभी जानते हैं कि गाय भैंस का दूध भले ही साल के कुछ माह न मिले। 

लेकिन गोबर हर रोज कई बार मिलता है। ऐसे में पशुपालक भाई इसी गोबर से वर्मी कंपोस्ट कैसे बना सकते हैं। इसी की जानकारी हम अपने इस लेख और वीडियो में देने वाले हैं। अगर आप भी गाय भैंस के गोबर से एक अच्छी आय कम लागत पर कमाना चाहते हैं तो आप हमारे इस लेख और वीडियो पर बने रहें। 

ये भी पढ़ें: जानिए कैसे फसल को जंगली जानवरों से बचाएगा सोलर फेंसिंग सिस्टम

गोबर से वर्मी कंपोस्ट बनाने की विधि

गोबर से वर्मी कंपोस्ट बनाकर न केवल किसान भाई मोटी आय अर्जित कर सकते है। बल्कि इसी के जरिए भूमि के पोषक तत्वों को भी जीवित किया जा सकता है। आइए जानते हैं इसकी प्रक्रिया के बारे में। 

  1. इसके लिए सबसे पहले आपको एक ऐसा गोबर लेना होगा। जो कम से कम 10 से 15 दिन पुराना हो। 
  2. इस गोबर को आपको दो से तीन दिन तक पानी देना है। ताकि इसकी सारी गर्मी बाहर निकल जाए। 
  3. इसके बाद आपको वर्मी कम्पोस्ट बनाने के लिए जमीन के ऊपर एक प्लास्टिक की शीट बिछानी है। 
  4. इस पर 4 फुट चौड़ा, 1.5 फुट ऊंचा और 24 फुट लंबा बैड बनाना है। इस पर आपको गोबर डालना है। 
  5. ध्यान रहे कि बेड के ऊपर शेड हो या फिर हरी रंग की जालीदार चादर हो। ताकि ये धूप से बचें रहे। 
  6. इसके बाद आपको कुछ अच्छी नस्ल के केचुंए लेने हैं और इस  बैड पर डाल देने हैं। 
  7. इसके बाद एक गिली बोरी इस बैड पर अच्छे से ढकनी है और बैड के ऊपर ड्रिप सिस्टम का पाइप लगाना है। ताकि इस बैड पर नमी बनी रहे। इसके लिए आप गर्मियों में रोजाना 15 मिनट पानी चलाए और सर्दियों में एक दिन छोड़कर एक दिन पानी दें। 
  8. इसके 60 दिन बाद आपको आपका वर्मी कम्पोस्ट मिल जाएगा। 

वर्मी कम्पोस्ट की जांच कैसे करें 

अब बात आती है कि आप कैसे देखेंगे कि वर्मी कम्पोस्ट तैयार हुआ या नहीं। इसे देखने के लिए आपको बैड के ऊपर से बोरी हटानी है अगर बैड पर बिछा गोबर पूरी तरह काल हो गया है तो वर्मी कम्पोस्ट तैयार हो गई है। इसे पूरी तरह देखने के लिए आप नीचे तक हाथ मारकर देखें। ऐसा करने से आपको सही अनुमान हो जाएगा। 

ये भी पढ़ें: एक ऐसी तकनीक जिससे नहीं होगी फसल की बर्बादी। Fasal System

वर्मी कम्पोस्ट से केंचुए अलग करने की विधि

अब केंचुए और वर्मी कम्पोस्ट को अलग करने के लिए आप बेड के साइड में 15 से 20 दिन पुराने गोबर को रख सकते हैं। इससे केंचुए इस बैड से निकलकर गोबर में आ जाएंगे और वर्मी कम्पोस्ट खुद ही अलग हो जाएगा।

वर्मी कम्पोस्ट से होने वाली आय 

अब बात करें कि एक ट्राली गोबर से आपकी कितनी कमाई हो सकती है। अगर आप एक ट्राली गोबर से वर्मी कम्पोस्ट बनाते हैं तो इससे आपको 9 हजार रुपए का वर्मी कम्पोस्ट मिल जाता है। वहीं इसके अलावा इसमें केंचुए की संख्या भी बढ़ जाती है और केंचुए बेचकर भी आप 20 हजार रुपए तक कमा सकते हैं। आपको इसमें लागत 2 से 5 हजार रुपए के बीच में आ सकती 

ये भी पढ़ें: जानिए क्यों है गधी के दूध की कीमत 7000 रुपए लीटर और क्या हैं इसके फायदे।