अगर बार-बार आपकी गाय लात मारती है तो क्या करना चाहिए!

गाय और भैंस का पालन करने वाले पशुपालकों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इनमें से सबसे मुख्य एक समस्या है कि गाय और भैंस का दूध दोहते समय उनका लात मारना। पशु के इस व्यवहार के चलते कई बार दूध की पूरी बाल्टी ही गिर जाती है और पशुपालकों को आर्थिक नुकसान होता है। यही नहीं कई बार पशु के लात मारने पर पशुपालक भी उन्हें मारने पीटने लगते हैं। तो अब जानिए कि अगर आपकी गाय लात मारती है तो क्या करना चाहिए।

जिसकी वजह से पशु अधिक चिड़चिड़ा हो जाता है और दूध भी कम देने लगता है। गाय भैंस की इसी समस्या का कारण और समाधान हम अपने इस लेख में लेकर आए हैं। अगर आपकी गाय या भैंस दूध निकालते समय लात मारती है तो आप उसे कई तरह से काबू में कर सकते हैं। आइए विस्तार से समझते हैं आखिर क्यों गाय या भैंस दूध दुहते समय लात मारती है और कैसे उन्हें काबू में करें। 

गाय या भैंस के लात मारने की वजह 

एक पशुपालक को यह समझना बहुत जरूरी है कि गाय या भैंस दूध दुहते समय कुछ कारणों की वजह से लात मार सकती है। इनमें से कुछ हम आपको नीचे बता रहे हैं। 

  1. गाय अगर लंबे समय बाद हीट में आई हो या गर्भाधान किया गया हो तो गाय चिड़चिड़ी हो जाती है और लात मारने लगती। 
  2. गाय को अगर किसी तरह का रोग हो जाए या उसके थनों में दर्द हो तो भी वह लात मारने लगती है। 
  3. ऐसा कई बार देखने को मिलता है कि पशु किसी विशेष व्यक्ति से चिड़ता है। जिसकी वजह से वह उसे दूध दुहने नहीं देता और बार – बार लात मारने लगता है। 
  4. गर्भधारण करने के दौरान पशु के शरीर में कई बदलाव आते हैं। जिसकी  वजह से पशु दूध दुहते समय लात मारने लगता है। 
  5. अगर पशु को सही तरह से चारा न दिया जा रहा हो और वह शारीरिक रूप से कमजोर हो जाए तो भी वह दूध दुहते समय लात मार सकता है। 
  6. अगर गाय या भैंस की तबीयत खराब हो या वह किसी पीड़ा में हों तो भी वह बार – बार लात मार सकते हैं। 

गाय लात मारती है तो क्या करना चाहिए

गाय या भैंस दूध देते समय कई कारणों के चलते लात मार सकते हैं। पशुपालकों को ऐसे में सब्र और समझदारी से काम लेना चाहिए। अगर पशुपालक ऐसे में किसी तरह की जोर जबरदस्ती करें या पशु के खिलाफ सख्त रुख अपनाएं तो इससे पशु अधिक गुस्से में या तनाव में आ जाता है और उसके दूध देने की क्षमता प्रभावित होने लगती है। इसलिए पशु को बहुत प्यार से और तरीके से काबू में करना चाहिए। ऐसे ही कुछ तरीके हम आपको बताते हैं जो दूध दुहते समय आप आजमा सकते हैं। लेकिन इन उपाय को आजमाते हुए पशुपालक को यह समझना होगा कि पशु लात मार क्यों रहा है। 

गाय न मारे लात इसके उपाय

  • अगर पशु किसी विशेष व्यक्ति से चिड़ा हुआ है तो बेहतर है कि पशु का दूध कोई दूसरा व्यक्ति निकाले। लेकिन अगर कोई दूसरा व्यक्ति मौजूद नहीं है तो ऐसे में पशुपालक उसके आगे के एक पैर को मोड़ कर बांध दे और फिर दूध निकाले। ऐसा करने से पशु लात नहीं मार पाएगा। लेकिन ध्यान रहे कि इससे पशु अधिक चिड़चिड़ा हो सकता है। इसलिए किसी भी सूरत में यह आखिरी उपाय है जो आपको करना है। 
  • अगर पशु दूध दुहते समय लात मारता है तो बेहतर है कि आप उसे खाने में दाना डालना शुरू करें। जब भी दूध निकालना हो तो पशु को दाना खाने को दें। ऐसा करने से पशु का पूरा ध्यान दाना खाने में लगा रहेगा और वह खुशी – खुशी दूध दे देगा। 
  • गाय या भैंस को दूध निकालते समय अगर उनकी मनपसंद चीज या चारा खाने में दिया जाए, तो इससे वह दूध निकालते समय लात नहीं मारते। 
  • गाय या भैंस शारीरिक रूप से कमजोर है तो उसे अधिक मात्रा में चारा दें। ताकि वह कमजोरी का शिकार न रहे। 
  • अगर पशु को गर्मी में रखा गया है तो इसकी वजह से भी वह लात मार सकती है। इसलिए पशु के आस पास कूलर या पंखे का इंतजाम करें।  
  • पशु अपनी चोट या दर्द बता नहीं सकता। ऐसे में अगर कोई उपाय काम नहीं कर रहा है तो आप इस सूरत में चिकित्सक की मदद लें, हो सकता है किसी दर्द या रोग के चलते वह ऐसा कर रहा हो। 

आप इसी तरह की जानकारी हमारी Animall App के जरिए भी पढ़ सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो पशु खरीदने और बेचने के लिए भी Animall App का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐप को डाउनलोड करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें और अपनी पसंद का पशु खरीदें।