नवजात बछड़ों का पोषण कैसे करें?

अच्छा पोषण ही बछड़ों- बछड़ियों को दूध / काम के लिये सक्षम बनाता है। नवजात बछड़ों के लिये कोलोस्ट्रल (खीस) का बहुत महत्व है। इस से बिमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। और बछड़े- बछड़ियों का उचित विकास होता है।

… और पढ़ें arrow

पशुओं के आहर व पानी की दिनचर्या कैसी होनी चहिये?

किसी महापुरुष ने कहा है कि अपना भोजन समय पर खाएं, जिस तरह दवाई समय पर खाई जाती है। वरना खाने के समय पर जिंदगी भर दवाई ही खानी पड़ेगी। यह बात न केवल इंसानों पर लागू होती है। बल्कि पशुओं पर भी यही बात लागू होती है। लेकिन पशु स्वयं तो कुछ लेकर खा – पी नहीं सकते।

ऐसे में पशुपालकों की यह जिम्मेदारी है कि वह उनके खाने पीने का इंतजाम सही तरह से करके रखें। लेकिन कई बार खुद पशुपालक ही नहीं जानते कि पशु को खाने में क्या दें। अगर आप भी पशुपालन करते हैं और आपकी भी यही समस्या है, तो घबराइए मत। आज हम आपको अपने इस लेख में पशुओं की दिनचर्या में कब क्या और कितनी मात्रा में देनी चाहिए, इसकी जानकारी देने वाले हैं। 

पशु के लिए संपूर्ण आहार

इंसानी शरीर की तरह पशु के शरीर को भी कई तरह के पोषक तत्वों की जरूरत होती है। जब यह जरूरत पूरी नहीं होती तो इसकी वजह से न केवल पशु बीमार रहने लगता है। बल्कि इसका असर पशु की दूध देने की क्षमता पर भी पड़ता है। यही नहीं कई बार पशु कमजोरी के चलते मर भी जाता है। इसलिए जरूरी है कि पशु को एक संपूर्ण आहार नियमित रूप से दिया जाए। आप पशु को क्या खिला सकते हैं और कितना खिला सकते हैं। इसकी जानकारी हम आपको नीचे दे रहे हैं। 

कितनी बार दें पशु को आहार 

पशु के आकार और दूसरी कई चीजों के आधार पर ही पशु के आहार को तय किया जाता है। लेकिन एक बात जो इसमें सबसे जरूरी है कि पशु को दिन में कम से कम 3 से 4 बार चारा या आहार देना चाहिए। 

पशु का सूखा और हरा चारा

किसान और पशुपालक भाई अक्सर पशु की दूध उत्पादन क्षमता को बेहतर करने के लिए उन्हें अधिक मात्रा में हरा चारा देने लगते हैं। लेकिन यह पूरी तरह गलत है। जिस तरह पशु को हरा चारा दिया जाता है। ठीक उसी तरह पशु के लिए सूखा चारा भी जरूरी है। इसलिए पशु को सूखा और हरा चारा बराबर मात्रा में मिलाकर दें। 

पशु को दाना देना 

पशु के स्वास्थ्य को बेहतर करने के लिए उसे रोजाना कुछ मात्रा में दाना और नमक जरूर देना चाहिए। अगर ऐसा न किया जाए तो इसकी वजह से पशु के शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो सकती है। ध्यान रहे कि दाना पशु को चारा देने के बाद ही दें।

घास की कमी होने पर 

किसान भाई इस बात से भली भांति परिचित हैं कि पशु को पूरे साल हरा चारा देना संभव नहीं है। ऐसे में जब पशु के लिए हरा चारा उपलब्ध न हो तो पशुपालक को इस स्थिति में पशु के लिए साइलेज का प्रबंध करना चाहिए।   

पशु को कितना पानी दें 

किसान भाई अक्सर आहार की कमी का तो ख्याल कर लेते हैं। लेकिन कई बार उन्हें पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं दे पाते। जिसकी वजह से पशु डिहाइड्रेशन का शिकार हो जाता है। पशु को इस स्थिति से बचाने के लिए रोजाना 35 से 40 लीटर पानी पिलाना चाहिए। 

हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई पशु आहार की जानकारी आपके काम आएगी। अगर आप इसी तरह की जानकारी से रूबरू होना चाहते हैं, तो आप हमारी Animall App को डाउनलोड कर सकते हैं। ऐप के जरिए पशु बेचा और खरीदा भी जा सकता है। इसके अलावा ऐप के माध्यम से पशु चिकित्सक से आपातकालीन स्थिति में सहायता भी ली जा सकती है। आप हमारी एनिमॉल ऐप को इस लिंक के जरिए डाउनलोड कर सकते हैं।  

… और पढ़ें arrow

गाभिन गाय के लिए कितना आहार आवश्यक है?

गाय का वज़न = 250 कि. ग्रा (लगभग) (क) भूस = 4 किलो (ख) दाना मिश्रण= 2.5 किलो (1.25 कि.शरीर के निर्वाह के लिये और 1.5 किलो अन्दर बन रहे बच्चे के लिये)

… और पढ़ें arrow

पशुओं के लिए रोज़ घर में दाना मिश्रण बनाने की कोई सामान्य विधि बताएं?

दाना मिश्रण बनाने की घरेलू विधि इस प्रकार है:- 10 किलो दाना मिश्रण बनाने के लिये: अनाज, चोकर और खली की बराबर मात्रा (3. 3 किलो ग्राम प्रति) डाल दें। इस में 200 ग्राम नमक और 100 ग्राम खनिज मिश्रण डालें। दाना बनाने के लिए पहले गेहूं, मक्का आदि को अच्छी दरड़ लें। और खली को कूट लें। यदि खली को कूट नहीं सकते तों एक दिन पहले खली को किसी बर्तन में डालकर पानी में भिगो लें। अगले दिन उसमें बाकि अव्यवों को (दाना,चोकर,नमक,खनिज मिश्रण) इस में मिलाकर हाथ से मसल दें। इस दाने को कुतरे हुए चारे/घास में मिलाकर पशु को खिला सकते हैं।

… और पढ़ें arrow

क्या पशु का आहार घर में बनाया जा सकता है?

हाँ। घर पर दाना मिश्रण बनाने के लिए निम्न छटकों की आवश्यकता होती है:-
(क) खली = 25-35 किलो
(ख) दाना(मक्का, जौई , गेहूं आदि) = 25-35 किलो
(ग) चोकर = 10-25 किलो
(घ) दालों के छिलके = 05-20 किलो
(ङ) खनिज मिश्रण = 1 किलो
(च) विटामिन ए, डी-3 = 20-30 ग्राम

… और पढ़ें arrow