पशुओं में अफारा रोग के क्या-क्या कारण हो सकते है।

(क) पशुओं को खाने में फलीदार हरा चारा, गाजर, मूली,बन्द गोभी अधिक देना विशेषकर जब वह गले सड़े हों।
(ख) बरसीम, ब्यूसॉन , जेई, व रसदार हरे चारे जो पूरी तरह पके न हों व मिले हों।
(ग) भोजन में अचानक परिवर्तन कर देने से।
(घ) भोजन नाली में कीड़ों, बाल के गोले आदि से रुकावट होना।
(ड़) पशु में तपेदिक रोग का होना।
(च) पशु को चारा खिलाने के तुरन्त बाद पेट भर पानी पिलाने से।

1 लाइक
… और पढ़ें arrow

नवजात बछड़ों का पोषण कैसे करें?

अच्छा पोषण ही बछड़ों- बछड़ियों को दूध / काम के लिये सक्षम बनाता है। नवजात बछड़ों के लिये कोलोस्ट्रल (खीस) का बहुत महत्व है। इस से बिमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। और बछड़े- बछड़ियों का उचित विकास होता है।

0 लाइक
… और पढ़ें arrow